Saturday, October 29, 2011

                                  तुम भी कहां फंस गए अमां 
         अगर मैं विज्ञापन लेखन में करियर बनाऊं तो!! तो क्या? तो कैसा रहेगा? तुम अभी के अभी आगरा के लिए कोई गाडी पकड़ लो शायद शुरूआती दिनों में तुम्हारा इलाज हो जाय. अरे नहीं मुझे ऐसा लगता है कि मैं ऐसा कर सकता हूं. देखो एक विज्ञापन आया था एक क्रीम का कि अगर वो क्रीम आप लगायेंगे तो लड़कियां आपकी दोस्त बन जायेगी और आपके पीछे पीछे दौड़ेगी. यार वो अब आउट डेटेड हो गया है. मेरे पास इससे लेटेस्ट आइडिया है. अच्छा बताओ मिस्टर मेंटल क्या आइडिया है तुम्हारे पास...ह्म्म्म...!!
        तुम्हें पता है मेरे पास एक मस्त का आइडिया है अच्छा सोचो कितना अच्छा हो कि लड़कियों की बजाय उसके परिवार वाले लड़कों के पीछे उसी अंदाज में दौरने लगें!! फुस्स...क्या बोल रहे हो कुछ समझ आ भी रह है तुम्हें...जमाना ओपन हो रह है और तुम परिवार को बाजार में उतार रहे हो!! तुम्हारी यही प्रॉब्लम है पूरी बार सुनते नहीं बीच में ही चपड़ चपड़ करने लगते हो. अच्छा बोलो. देखो ये फेयर एंड लवली वाले जो विज्ञापन दिखाते हैं न उसे वो अधूरा ही दिखाते हैं. मान लो लड़की लड़के के पास दौड़ते हुए आ गई लेकिन उसके बाद क्या होगा ये वो नहीं दिखाते! उफ्फ्फ तुम फिर से दिमाग ख़राब करने लगे? उसके बाद दिखाने लायक कुछ होता ही नहीं है इसीलिए नहीं दिखाते हैं...वैसे अगर उसके बाद क्या होना है ये देखने के लिए तुम यू ट्यूब में सर्च मार सकते हो मिस्टर मेंटल. हो गया चपड़ चपड़ अब मैं पूरी करूं अपनी बात!!? अच्छा बोलो. देखो लड़कियां लड़कों के पास आकर बोलती होगी कि मुझसे शादी कर लो फिर लड़का बोलता होगा कि मैं उस टाइप का लड़का नहीं हूं. फिर? फिर क्या फिर लड़कियां  उससे सौ सवाल करती होगी कि तुम जैसे भी हो मुझे पसंद हो और लड़का चुपचाप उसे देखता होगा. धत्त्त सारी चढ़ी हुई उतार दी ... लड़का भला ऐसा बोलेगा! अरे वो सब तुम दर्शक पड़ छोड़ दो वो समझ लेंगे तुम दुनियादारी को देख देख कर सेठिया गये हो. अच्छा चलो आगे बताओ फिर क्या? फिर कुछ नहीं कुछ लोगों की एंट्री होगी सीन में और सब लड़कियां उसके पीछे चली जायेंगी. हें ??? ऐसा क्यूं?? अरे वेरी सिंपल पहले वाले लड़के के पास कोई जॉब नहीं होगा इसलिए. अरे लेकिन लड़की की पसंद का क्या हुआ?? अमां लड़की तो लड़की है उसकी गिनती मत करो चलो दूसरा पेग बनाओ.

No comments:

Post a Comment